भारतीय अंतरिक्ष विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी संस्थान (आइआइएसटी)

भारतीय अंतरिक्ष विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी संस्थान (आइआइएसटी),), अंतरिक्ष विभाग, भारत सरकार द्वारा स्थापित, यूजीसी अधिनियम 1956 की धारा 3 के अधीन एक ‘मानित विश्वविद्यालय’, एविओनिकी, वांतरिक्ष इंजीनियरी एवं भौतिक विज्ञानों में स्नातक-पूर्व कार्यक्रम, अंतरिक्ष विज्ञान, प्रौद्योगिकी तथा अनुप्रयोग के निकेत क्षेत्रों में स्नातकोत्तर व डॉक्टरल कार्यक्रम में प्रवेश प्रदान करता है। यह संस्थान अध्यापन, अध्येतावृत्ति तथा अनुसंधान में उच्चतम श्रेणी की उत्कृष्टता की संस्कृति हेतु वचनबद्ध है। आइआइएसटी अंतरिक्ष अध्ययनों में अद्यतन अनुसंधान व विकास को बढ़ावा देता है और भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम के लिए नई दिशाओं की खोज हेतु विशेषज्ञ दल का सृजन करता है।

यह संस्थान उत्कृष्ट अवसंरचना प्रदान करता है तथा यहाँ उच्चतम शैक्षणिक योग्यताओं एवं भारत तथा विदेशों में अनुसंधान अनुभव से युक्त संकाय सदस्य हैं। अंतरिक्ष विज्ञान के अग्रणियों के साथ निकट सहयोग का अवसर तथा अपने अनुसंधान विचारों को विकसित करने का लचीलापन आइआइएसटी मे उत्साही छात्रों के लिये को एक आदर्श पर्यावरण बनाता है। विविध राष्ट्रीय प्रयोगशालाओं में अग्रणी प्रौद्योगिकियां व अद्यतन सुविधाएं प्राप्त करने के अवसर छात्रों के लिये उपलब्ध हैं।

संस्थान की संकाय शक्ति 80 है। देश के विविध भागों से आए लगभग 700 छात्र स्नातक-पूर्व, स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम तथा डॉक्टरल पाठ्यक्रमो मे शिक्षा अर्जित कर रहे हैं। आइआइएसटी, तिरुवनंतपुरम शहर से करीब 20 कि.मी. दूर वलियमला में स्थित एक निवासीय संस्थान है।

 

भारतीय अंतरिक्ष विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी संस्थान
वलियमला पीओ,
तिरुवनंतपुरम - 695547
वेबसाइट: www.iist.ac.in
निदेशक:डॉ. विनय कुमार डढवाल