पीएसएलवी-सी40/कार्टोसैट-2 श्रृंखला उपग्रह अभियान

gslv

भारत के ध्रुवीय उपग्रह प्रमोचन यान ने अपनी बयालीसवीं उड़ान में (पीएसएलवी-सी40) सतीश धवन उपग्रह केंद्र (एसडीएससी), शार, श्रीहरिकोटा के प्रथम प्रमोचन मंच (एफएलपी) से भू-प्रेक्षण के लिए 710 कि.ग्रा. कार्टौसैट-2 श्रृंखला उपग्रह और उसके साथ, उत्थापन पर करीब 613 कि.ग्रा. भारवाले 30 सहयात्री उपग्रहों का एक साथ सफल प्रमोचन किया। सहयात्री उपग्रहों में भारत से एक माइक्रो-उपग्रह तथा एक नैनो-उपग्रह एवं कनाडा, फिनलैंड, फ्रांस, कोरिया गणराज्य, यूके तथा यूएसए जैसे छः देशों से 3 माइक्रो-उपग्रह और 25 नैनो-उपग्रह शामिल हैं। युगपत् पीएसएलवी-सी40 के सभी 31 उपग्रहों का कुल भार लगभग 1323 कि.ग्रा. है।अंतरिक्ष विभाग (अं.वि.) के अधीन भारत सरकार की कंपनी एन्ट्रिक्स कॉरपरेशन लिमिटेड (एन्ट्रिक्स), जो इसरो का वाणिज्य स्कंध है, और अंतर्राष्ट्रीय उपभोक्ताओं के बीच किए गए वाणिज्यिक समझोतों के तहत अंतर्राष्ट्रीय उपभोक्ताओं के 28 उपग्रहों का प्रमोचन किया गया था।पीएसएलवी-सी40/कार्टोसैट-2 श्रृंखला उपग्रह अभियान का प्रमोचन शुक्रवार, जनवरी 12, 2018 को भारतीय समयानुसार 09:29 बजे किया गया।